in ,

1 या फिर 3 साल कौन सी बीमा पालिसी आपकी टू-व्हीलर के लिए बेस्ट है :जानिए

two wheeler best Insurances policy

जब भी आप नई गाड़ी लेते हैं तो उसका इंश्योरेंस अवश्य करवाते हैं लेकिन कुछ सालो बाद इंश्योरेंस करवाते नहीं है लेकिन टू व्हीलर का बीमा करवाना बहुत जरूरी होता है भारत में सबसे ज्यादा टू व्हीलर गाड़ी का प्रयोग होता है अगर आप एक साल का बीमा करवाते हैं तारीख निकल जाने पर आप उसे रिन्यू नही करवाते है तो वह रद्द हो जाता है.

इस परिस्थिति को देखकर आईआरडीए ने बीमा कंपनी को लॉन्ग टर्म यानी दीर्घकालीन बीमा का आदेश भी दे दिया है और साथ ही साथ 2 से 3 साल के लिए आप बीमा पॉलिसी खरीद सकते हैं लेकिन अब सवाल यह उठता है कि आप को 1 साल के लिए लेनी चाहिए यहां लंबी अवधि लेनी चाहिए तो आइए जानते हैं कि आपके लिए किस तरह की पॉलिसी अच्छी रहेगी.

यह मिलेगे फायदे-:

अभी तक कई डीलर ने लंबी अवधि बीमा पॉलिसी बेचने शुरू नहीं कि है क्योंकि इसका कारण यही है कि सभी लोग ऑन रोड कीमत को देखते हैं इसी वजह से डीलर वाहनों की कीमत कम रखते हैं वाहनों के लिए लंबी अवधि का बिमा खरीदने से अनेक प्रकार के फायदे होते हैं इसमें आपको प्रीमियम पर 27 प्रतिशत की बचत भी होती है और बल्कि आप हर साल बीमा रिन्यू करवाने से भी बच सकते हैं और 3 साल की अवधि की प्रीमियम बहुत कम आती है.

वाहन 10 पुरानी होने पर -:

भारतीय अपने बहन को लंबे समय तक अपने पास में रखते हैं इन मामलो में आपको बिमा रिन्यू करना बेहद सस्ता होता है आईडीवी कम होती है जिससे प्रीमियम आपका कम होता है अगर बाइक आपकी 10 साल से भी पुरानी है तो बीमा कंपनी लंबी अवधि की पॉलिसी नहीं बेजती.

1 साल का इसलिए-:

अगर आपने सोचा है कि आप को 1 साल के अंदर बाइक को बेचना है तो आपके लिए 1 वर्ष का ही बीमा सही रहेगा अगर आपको बाइक बेचना है तो नए मालिक को ट्रांसफर करना होगी फिर नया मालिक अपनी जरूरतों के अनुसार गाड़ी की बीमा पॉलिसी खरीदेगा ऐसे मामले में आपके लिए 1 साल वाला ही बहुत बेहतर बीमा है.

top-hair-growth-tips

लडकियों की सुन्दरता बढ़ाते है लम्बे घने बाल

sadhana-singh-story

नदिया के पार की गूंजा ने इंडस्ट्री छोड़ इस काम को करना बेहतर समझा

Loading...