in

गुप्त रोग पर बात करो तो लोग कहते है शुभ-शुभ बोलो

shubh-mangal-saavdhan-trailer

हमारे समाज में यदि किसी पुरुष में शारीरिक कमी होती है तो उसे किसी काम के लायक नहीं समझा जाता उससे अलग ही नजरिए से देखा जाता है उसे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जाता है लेकिन समाज यह भूल जाता है कि यदि किसी व्यक्ति में कोई शारीरिक कमी है तो वह दूर हो सकती है शारीरिक कमी के चलते व्यक्ति का स्वभाव नहीं बदलता और ना ही वह दुसरे व्यक्तियों से  अलग होता है.

पपुरषों की शारीरिक कमजोरी को लेकर निर्माता  आर. एस. प्रसन्ना  ने फिल्म शुभ मंगल सावधान बनाई है जिस में पुरुषों की कमी शारीरिक कमी के बारे में बताया गया है एक बार फिर आयुष्मान खुराना और भूमि पेडनेकर इस फिल्म में लीड रोल करते हुए नजर आएंगे इससे पहले भी आयुष्मान और भूमि दम लगा कर हईशा में साथ नजर आ चुके हैं लोगों ने उन्हें काफी पसंद किया था.

 सलमान ने इस एक्ट्रेस को लगाया अनोखा तरीके से गले

फिल्म शुभ मंगल सावधान का ट्रेलर लॉन्च हो चुका है यह फिल्म एक ऐसे मुद्दे पर बनी हुई है जहां पर मिडिल क्लास के लोग पुरुष की शारीरिक कमजोरी पर बात करना शर्म मानते हैं उसे छुआछूत से जोड़ देते हैं. कुछ व्यक्ति पुरुषों की शारीरिक कमजोरी को पुरुषों की मर्दानगी से तुलना कर देते हैं

अब शादी करने पर मिलेंगे 20 हजार रुपये और स्मार्टफोन

उन पुरूषों में किसी तरह की कोई शारीरिक कमी होती है तो उन्हें किसी काम का नहीं समझा जाता है फिल्म के माध्यम से लोगों की सोच को बदलने का प्रयास किया गया है पुरुषों की नपुंसकता से होने वाले भेदभाव को ध्यान में रखकर इस फिल्म का निर्माण किया गया है फिल्म 1 सितंबर को भारतीय सिनेमाघरों में दस्तक देगी.

वायरल हो रही सलमान और मौनी की इस तस्वीर का क्या है राज ?

After losing 31-year-old son, woman delivers healthy baby boy at 64

OMG : 64 की उम्र में महिला बनी माँ, बच्चे की परवरिश के लिए कर रहे यह काम

Amitabh bachchan-recalls-the-accident-happened-on-the-set-of-coolie-in-1982

सांसें बंद होने को थीं, परंतु आप सबकी प्रार्थना ने मुझे जीवित रखा

Loading...