in ,

जब सचिन की बदोलत दादा ने खेली थी 6 घंटो की यादगार पारी, तो दोस्ती बन गई मिसाल

Sachin Tendulkar and Sourav Ganguly friendship story

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान कप्तान सौरव गांगुली ने क्रिकेट की दुनिया में कई रिकॉर्ड अपने नाम किये है. आज भी उनके द्वारा खेली गई यादगार परियो को कोई भी भूल नहीं पाया है. जिस तरह दादा की यादगार परिया हमें याद है उसी तरह हर कोई सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली की दोस्ती से भी अच्छी तरह वाकिफ है.

जैसा की हम सभी जानते है की सौरव गांगुली और सचिन तेंदुलकर की दोस्ती अंडर-16 क्रिकेट के दिनों में हुई थी. उनकी यह दोस्ती आज तक बरकरार है. आज भी दादा और तेंदुलकर की दोस्ती के कई किस्से काफी मशहूर है.

कुछ किस्से आज भी ऐसे है जिनके बारे में बहुत कम व्यक्ति जानते है. वैसे तो दादा अब तक कई किसो की जानकारी अपने फेन्स को दे चुके है.

Sachin Tendulkar and Sourav Ganguly friendship story

एक बार फिर उन्होंने अपनी दोस्ती की एक यादगार बात का जिक्र करते हुए बताया की जब वह अपने पहले टेस्ट में थे तो मैच के टी ब्रेक के समय वह क्रीज पर 100 रन बना कर खेल रहे थे. लेकीन मैच के दौरान ही उनके बेट के हेंडल में दरार आ गई थी.

दादा अपने उसी बेट से आगे भी खेलना चाहते तजे क्यों की उस बेट से उन्होंने अच्छे रन बनाये थे. और वह बेट बदलना नहीं चाहते थे. मैच के दौरान टी-ब्रेक महज 15 मिनट का था. इसके लिए वह अपने बल्ले को टेप से बांधने लग गए. यह सब देखते हुए सचिन उनके पास आये और कहने लगे की तुम आराम से चाय पिलो. में तुम्हारा बल्ला सही कर देता हु. क्यों की तुम्हे अभी जा कर खेलना है.

Sachin Tendulkar and Sourav Ganguly friendship story

सौरव गांगुली को भारतीय क्रिकेट टीम का महान कप्तानों में से एक माना जाता है. गांगुली ने अपनी नई किताब अ सेंचुरी इज नॉट इनफ में इस तरह के कई किस्सों का जिक्र किया है.

धोनी को लेकर खुलासा

Sachin Tendulkar and Sourav Ganguly friendship story

सौरव गांगुली ने एमइस धोनी को लेकर भी एक रोचक खुलासा किया है. उनके बताये अनुसार काश वर्ल्ड कप में धोनी मेरी टीम में शामिल होते. 2003 वर्ल्ड कप के दौरान वह टिकट कलेक्टर के पद पर थे.

Whatsapp डिलीट फॉर एवरीवन के आप्शन में हुआ ये बदलाव सेंड हो गया है गलत मेसेज तो एक बार जरुर पढ़े यह खबर

Ram Kapoor Son Aks Kapoor

राम कपूर के बेटे ने किया बड़ा कारनामा, 9 साल की उम्र में ही हासिल किया ऑस्कर

Loading...