in

सडको पर जॉनी लीवर बेचते थे पेन, एक ही साल में रिलीज हुईं थीं 25 फिल्में और जाना पड़ा जेल

johnny-lever-story

हिंदी फिल्मों में अपनी कॉमेडियन अंदाज से सबको हंसाने वाले और दुनिया में अपनी पहचान बनाने वाले एक्टर जॉनी लीवर का जन्म 14 अगस्त 1957 को आंध्र प्रदेश में हुआ था जॉनी का जन्म एक तेलुगू क्रिस्चियन परिवार में हुआ था उनका असली नाम जॉनी लीवर नहीं बल्कि जॉनी प्रकाश राव है बचपन में जानी लीवर बहुत ही गरीब हुआ करते थे जिस वजह से उन्होंने अपनी पढ़ाई महज सातवी क्लास तक ही की

गरीबी के कारण वह आगे पढ़ नहीं पाए हालांकि पढ़ने की इच्छा थी लेकिन पैसों की कमी के कारण वह अपना भविष्य संवारने के लिए किसी और ही राह पर चल पड़े. जॉनी लीवर आज जिस पोजीशन पर है आज उन्होंने जो मेहनत से शोहरत कमाई है वह सब उनकी प्रतिभा का ही कमाल है.

johnny-lever-story

हम आपके है कौन के लल्लू प्रसाद ने की थीं दो शादियां, दर्दनाक हुई थी मौत

उन्होंने अपनी मेहनत के बलबूते पर संघर्ष करते हुए यह सब कुछ हासिल किया परिवार की गरीबी को देखते हुए उन्होंने पढ़ाई छोड़ दी और अपने परिवार की सहायता करने के लिए गली-गली घूम कर पेन बेचने लग गए थे उन्हें बचपन से ही मिमिक्री और एक्टिंग का शौक था इसलिए वह पेन बेचते हुए भी बॉलीवुड सितारों की नकल किया करते थे.

इसलिए अमिताभ बच्चन ने रेखा को छोड़ जया से कर ली थी शादी

पिता ने दिलाई नोकरी :

जॉनी लीवर को उनके पिता ने हिंदुस्तान लीवर कंपनी में नौकरी पर लगा दिया वहां पर उनके पिता पहले से ही काम करते थे उस कंपनी मैं जॉनी बड़े बड़े ड्रम्स को उठाकर एक स्थान से दूसरे स्थान रखते थे लेकिन उन्होंने वहां पर भी अपने शोक को नहीं छोड़ा अपनी मिमिक्री और कॉमेडी से वह कंपनी में भी सभी सहकर्मियों को गुदगुदाया करते थे. 

अमिताभ ही नहीं किंग खान भी थे इस महिला के दीवाने, एक झलक के लिए बेताब थे शहंशाह

अफसरों की मिमिक्री कर मिला नया नाम  :

जॉनी लीवर को एक बार कंपनी के ही फंक्शन में अपने सीनियर अफसरों की मिमिक्री करने का मौका मिला उस एक्ट को देख कर लोगों ने उसे इतना पसंद किया की जानी राव का नाम बदलकर जॉनी लीवर रख दिया .

इस कदर करते थे प्यार की गार्डन को ही बना दिया कब्रिस्तान

सुनील दत्त ने दिया मोका :

जिसके बाद जॉनी लीवर कई स्टेज शो करने लग गए और उनकी ख्याति बढ़ने लग गई स्टेज शो के दौरान सुनील दत्त की नजर जॉनी लीवर पर पड़ी है और उन्होंने जॉनी को अपनी फिल्म दर्द का रिश्ता में काम करने का मौका दे दिया उसके बाद तो वह दिन प्रतिदिन आगे बढ़ते चले गए.

कॉमेडी से जीता दिल :

सुनील दत्त के द्वारा दिए गए मौके को जॉनी ने जाया नहीं किया और उन्होंने अपनी प्रतिभा को सभी को दिखाया उसके बाद जानी सफलता की सीढ़ियां चढ़ते चले गए और उन्होंने कॉमेडी की दुनिया में अपनी पहचान बना ली जिसकी कभी उन्होंने कल्पना भी नहीं की थी बॉलीवुड में शायद ही ऐसा कोई हीरो होगा जिसके साथ उन्होंने काम ना किया हो.

एक साल में 25 फिल्में :

एक समय ऐसा था जब जॉनी लीवर के पास बॉलीवुड के दिग्गज हीरो से भी ज्यादा काम था उसी से अंदाजा लगा सकते हैं कि वर्ष 2000 में जॉनी लीवर की 25 फिल्में रिलीज हुई थी.

साढ़े तीन सौ फिल्मे :

जॉनी लीवर ने अब तक करीब 350 सो फिल्में कर चुके हैं और हर फिल्म में उन्होंने अपनी एक अलग ही छाप छोड़ी है जिससे कोई भी भुला नहीं सकता.

जाना पडा था जेल :

सन 1998 में जॉनी लीवर को एक हफ्ते के लिए जेल जाना पड़ा था उन पर आरोप लगाया गया था कि उन्होंने तिरंगे का अपमान किया है जिसके चलते होने 7 दिन तक जेल में रहना पड़ा था हालांकि बाद में यह आरोप उन पर से हटा दिया गया.

Monkey hoisted tricolor viral video on social media

बंदर में फहराया तिरंगा : वीडियो वायरल

is-this-a-worm-or-lizard

ये अजीबो गरीब चीज है क्या ? कीड़ा या छिपकली

Loading...