in

अब एक्सीडेंट से बचाएगा ABS, जानें इसकी खासियत

anti-lock-braking-systems-in-bikes-and-cars-helps-in-safe-driving-special-story

आजकल मार्केट में कई तरह की बाइक्स मिल रही हैं, जिनमे तरह-तरह के फीचर्स भी होते है, जो आपकी बाइक की खूबी मे चार चाँद लगाते है.

हर किसी को बेहतरीन लुक्स के साथ पावर ब्रेक्स एवं डिजिटल मीटर वाली बाइक अधिक पसंद आती है, लेकिन इन सब के अलावा एक फीचर और भी है, जो ज्यादातर बाइक्स में नहीं होता है. लेकिन ये बाइक में इस फीचर का होना बेहद ही जरूरी होता है, क्योंकि यह फीचर एक्सीडेंट की स्थिति में आपकी जान की रक्षा करता है.

हम बात कर रहे है एंटी-लॉक ब्रेकिंग सिस्टम (ABS)की जो बाइक को एक्सीडेंट के खतरे से बचाता है. हालाकी भारतीय मार्केट में पुरानी बाइक्स में से किसी में भी ABS सिस्टम नहीं है, लेकिन अधिकांश नई बाइक्स में ABS की सुविधा दी जा रही है.

कैसे काम करता है ABS :-

ABS समान्यतः दो डिवाइसों का मिला हुआ रूप होता है, जिसमें पहला डिवाइस सेंसर होता है, जिसका काम स्थिति को भांपता होता है, वहीं दूसरा डिवाइस कंट्रोलर होता है, जो अंतिम काम करता है. जब हम बाइक चलाते है, तो तेज स्पीड में कई बार अचानक ब्रेक लगाना पड़ जाता है, कई बार हम गिर जाते है, या फिर किसी अनिश्चित घटना का शिकार हो जाते है, लेकिन बाइक में ABS सिस्टम लगा हुआ है, तो आप हम किसी भी तरह के एक्सीडेंट का शिकार नहीं होंगे.

ABS का सेंसर स्पीड और वेलॉसिटी के अलावा अक्सेलरेशन जैसी चीजों पर अपनी नजर रखता है, जब हम बाईक चलते हुये ब्रेक लगाते है या फिर मोड़ पर तेज गति से मुड़ते है, तो सेंसर कंट्रोलर को उसी स्पीड और स्थिति के अमुसर ब्रेक में पावर अप्लाई कर देता है, जिस वजह से ब्रेक सही लगते है, और एक्सीडेंट का शिकार हम नहीं होते है.

मुसीबत में लडकिया इस तरह अपना बचाव कर सकती है उन्हें अलर्ट रहने की जरूरत है

Strange Laws of Saudi Arabia

सऊदी अरब में गलती से भी न करें ये काम, दी जाएगी सजा-ए-मौत

Loading...