in , ,

मैं अकेला ही चला था नौकरी पर, शोषण करता गया प्रमोशन होता गया

Private-employees tips

आज का दौर प्रतिस्पर्धा का दौर है जहां पर हर कोई आगे बड़ने के लिए कई जतन कर रहा है लोगों के मन में एक बात घर बना कर बैठ गई है कि यदि आप धीरे चलोगे तो पीछे वाला व्यक्ति आपको धक्का देकर गिरा देगा और वह आप से आगे निकल जाएगा हर किसी व्यक्ति ने ऐसी सोच बना ली है कि जीवन को बेहतर ढंग से जीने के लिए और जीवन का आनंद लेने के लिए हमें सबसे आगे रहना काफी आवश्यक है चाहे उसके लिए हमें कुछ भी करना पड़े

चाहे कुछ भी हो जाये हम किसी को भी आगे नहीं होने देंगे और हमारे आगे जो व्यक्ति हैं उन्हें किसी न किसी तरीके से पीछे करना है चाहे उसके लिए हमें गलत रास्ते पर ही क्यों ना जाना पड़े लेकिन हम किसी को भी आगे नहीं होने देंगे व्यक्ति मन में एक सोच बना कर बैठा हुआ है कि जीवन बेहतर ढंग से जीना है तो हमें इस प्रतिस्पर्धा के दौर में सबसे आगे होना बहुत जरुरी है

कई व्यक्ति सोचते हैं कि समाज में अपनी एक पहचान बनाने के लिए खास पोजीशन होना बहुत जरुरी होता है और उसके लिए व्यक्ति कई तरह के जतन करता है कभी-कभी कई व्यक्ति गलत काम करने लग जाते हैं जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ता है लेकिन व्यक्ति यह बात भूल जाता है की आगे चलने से कोई जीत नहीं जाता जीवन जीने के लिए हमें लोगों के मन को जितना अति आवश्यक है ताकि भले ही हम समाज में ना रहे लेकिन समाज में हमारी इतनी इज्जत हो कि हर कहीं हमें मान सम्मान मिल सके.

आज के समय में यदि हम देखें तो हर कोई किसी न किसी व्यक्ति की टांग खींच कर उससे पीछे करने में लगा हुआ है हम देख ही रहे हैं कि किस तरह हर कोई व्यक्ति आगे निकलने के लिए व्यक्ति का शोषण करता है और जो व्यक्ति चापलूसी करता है उसका प्रमोशन होता जाता है अर्थात वह जीवन में और आगे बढ़ता जाता है. हम कह सकते हैं कि गरीब व्यक्ति और गरीब होता जा रहा है और अमीर व्यक्ति और अमीर होता जा रहा है.

व्यक्ति को निचा दिखाना :

जीवन में आगे बढ़ने के लिए कई बार व्यक्ति अपने आगे वाले व्यक्ति को हर किसी के सामने नीचा दिखाने की पूरी कोशिश करता है ताकि उसका मान-सम्मान कम हो सके और उसकी जगह पर दूसरे व्यक्ति को बिठाया जा सके जीवन में आगे बढ़ने के लिए कई व्यक्ति ऐसे होते हैं जो इस तरह का रास्ता भी अपनाते हैं.

शोषण करो प्रमोशन करो :

कई व्यक्तियों ने अपने मन में यह धारणा बना रखी है कि व्यक्ति का यदि हम शोषण करेंगे तो हमें प्रमोशन अवश्य मिलेगा अर्थात जितना उस व्यक्ति को हम समाज के नजरों में गिराएंगे या जिस कार्य को वह कर रहा है उसमें जितनी उसकी गलतियां निकालेंगे  व्यक्ति का आत्मविश्वास टूट जाएगा.

कामचोर व्यक्ति :

कुछ व्यक्ति अधिक कामचोर होते हैं वह कम काम में अधिक मुनाफा प्राप्त करने की सोचते हैं लेकिन वह यह भूल जाते हैं कि जब तक हम मेहनत नहीं करेंगे हमें फल की प्राप्ति नहीं होगी लेकिन इन व्यक्ति की सोच रहती है कि जितना कम काम किया जा सकता है उतना कम करे लेकिन अधिक से अधिक उसका हमें लाभ मिल सके वह अपने काम में कामचोरी करते ही रहते हैं.

चापलूसी :

कुछ व्यक्तियों को अपने काम से अधिक चापलूसी पर ध्यान देते हैं उनका ऐसा सोचना होता है कि यदि हम अपने बॉस की चापलूसी अधिक करेंगे तो वह हमें प्रमोशन दे देंगे.

lower budget blockbuster bollywood movies

सोनू के टीटू की स्वीटी से पहले यह 5 कम बजट फिल्मे भी जबरदस्त धमाल मचा चुकी है

शादी से किया मना तो हो सकती है आपको यह परेशानी

Loading...