in

क्यों करते है आत्महत्या ?

suicide-reason

आत्महत्या आत्महत्या एक ऐसा शब्द है जिससे कोई भी अनजान नहीं है देश में बढ़ रही आत्महत्याओं को कम नहीं किया जा सकता आज सभी के मन में सबसे बड़ा प्रश्न यही है कि क्या कारण है कि व्यक्ति आत्महत्या करने के लिए मजबूर हो जाता है आखिर क्यों वह अपनी इस जिंदगी को खत्म कर देता है हर कोई सिर्फ यही सवाल करता है कि आत्महत्या क्यों इतनी प्यारी जिंदगी को आप क्यों खत्म कर रहे हो आखिर क्या कारण जो व्यक्ति आत्महत्या करता है वह व्यक्तित्व मर जाता है किंतु उसकी मौत से सिर्फ उसका केले की मौत नहीं बल्कि उसके परिवार वालों की भी मौत हो जाती है

परिवार वाले जीते जी टूट जाते हैं और खासकर उनके माता-पिता अपने बेटे की लाश अपनी आंखों के सामने देखना माता पिता के कलेजे पर खंजर चलाने जैसा होता है मरने वाला व्यक्ति तो मर जाता है किंतु जीतेजी उन सभी व्यक्तियों को मार जाता है जो उन से प्रेम करते हैं उन से लगाव करते हैं वह इस बात को नहीं सोचते यदि जीवन में एक बार निराशा हाथ लगी तो क्या हो गया जीवन ने हमें निराश नहीं किया जीवन बहुत कीमती होता है इससे इस तरह ही बर्बाद ना करें

ईश्वर ने आपको इस धरती पर मनुष्य अवतार में जन्म किसी खास मकसद के लिए ही दिया होगा उस मकसद को जानो पहचानो और अपने लक्ष्य को पाओ आज इस लेख के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि आखिर क्यों व्यक्ति आत्महत्या जैसे कदम उठाता है और अपनी जीवन लीला समाप्त करता है इसके कई कारण हो सकते हैं परीक्षा में फेल होना किसी को सदमा लगना या किसी अपने का दूर चला जाना यह सब आत्महत्या के कारण हो सकते हैं

तलाक होने पर आत्महत्या :

कुछ व्यक्ति अपने जीवनसाथी से इतना लगाव करते हैं यह उनसे इतना प्यार करते हैं कि उनकी मृत्यु या फिर किसी कारण उनके बीच तलाक हो जाता है तो वह आत्महत्या कर लेते हैं और अपना जीवन समाप्त कर लेते हैं.

परीक्षा में फेल होना :

आए दिन सुनने में आ रहा है कि विद्यार्थी परीक्षा में फेल होने या कम नंबर आने से दुखी होकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर लेते हैं वह फेल होने का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाते और आत्महत्या जैसे कदम उठाते हैं लेकिन वह यह भूल जाते हैं कि परिवहन सिर्फ परीक्षा में फेल हुए जीवन में फेल नहीं हुए मौके हजार बार मिलेंगे लेकिन जीवन सिर्फ एक बार मिलता है जीवन में कभी भी हार नहीं माननी चाहिए निरंतर प्रयास करते चले क्योंकि प्रयास करने से ही सफलता मिलती है यदि एक बार आप असफल हुए हैं तो यह आवश्यक नहीं कि दूसरी बार भी आप असफल ही होंगे आपको सफलता अवश्य ही मिलेगी इसलिए निराश नहीं होना चाहिए

अकेलापन :

कई व्यक्ति खुद को अकेला महसूस करते हैं वह अपने मन की बात किसी को नहीं बताते हैं ऐसे व्यक्तियों के मन में आत्महत्या का ख्याल बहुत जल्द आता है और वह इस कदम को उठाते भी हैं वह व्यक्ति खुद को जमाने से अलग महसूस करता है और अकेलापन इस कदर उस पर हावी हो जाता है.

किसी अपने की मौत :

जीवन में जन्म और मृत्यु सृष्टि का नियम है मौत यदि किसी व्यक्ति का जन्म हुआ है तो उसकी मृत्यु निश्चित तिथि होती ही है मनुष्य अपनी मौत से दूर नहीं जा सकता किंतु कई व्यक्ति ऐसे होते हैं जो अपने प्रिय व्यक्ति की मौत का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाते हैं और वह अभी अपनी जीवन लीला समाप्त कर लेते हैं उन्हें अपने व्यक्तियों के जाने का दुख बर्दास्त नहीं होता जिनके लिए फिर एक ही रास्ता दिखता है और वह रास्ता आत्महत्या का होता है

परिवारिक कारण :

परिवार में कई बार नोकझोंक भी हो जाती है और वह न पूछो कितनी प्रजाति है कि व्यक्ति को कुछ सोचता नहीं वहां उसके पास सिर्फ एक ही रास्ता होता है आत्महत्या का और वहां यह कदम उठाता भी है.

बेइज्जती  :

कई बार व्यक्ति आत्महत्या इसलिए कर लेते हैं क्योंकि उनके साथ दुर्व्यवहार होता है और वह अपनी इस प्रजाति को सहन नहीं कर पाते हैं और कि अपने आप को किसी के सामने प्रदर्शित नहीं कर पाते हैं उनमें हिम्मत टूट जाती है जिसके चलते वह आत्महत्या के बारे में सोचने लगते हैं.

नुकसान होने पर :

व्यापार में लाभ या हानि होती ही रहती है यदि आपको व्यापार में लाभ हो रहा है तो निश्चित ही हानि होगी लेकिन कुछ व्यक्ति व्यापार में हो रही हानि को सहन नहीं कर पाते और वह आत्महत्या को ही अपने जीवन का अंतिम कार्य समझते हैं और इस कदम को उठाते हैं

 

busieness-ideas-you-can-start-without-money

बिना पैसा लगाए इन व्यापार से लाखों कमा सकते हैं

Biography of Beauty Expert Shahnaz Hussein

बाल विवाह होने के बावजूद , उधार पैसो से बना ली विश्व की सबसे बड़ी हर्बल फर्म

Loading...