in ,

इस छोटे से मंत्र के जाप से करें जीवन की बड़ी-बड़ी परेशानियों और बिमारियों का अंत :o

हिन्दू धर्म में मन्त्रों का बहुत

ज्यादा महत्व होता है। कोई भी पूजा-पाठ बिना मन्त्रों के पूरी ही नहीं होती है। मन्त्रों के जाप से इंसान के जीवन में सकारात्मकता का संचार होता है। ऐसा माना जाता है कि मन्त्रों के जाप से जीवन की हर छोटी-बड़ी समस्या को आसानी से हल किया जा सकता है। वैसे तो धर्म शास्त्रों के सभी मन्त्रों को बहुत ख़ास माना जाता है, लेकिन इनमें से गायत्री मंत्र को सबसे प्रभावशाली माना जाता है।

सुननें मात्र से होता है कई परेशानियों का नाश:

गायत्री मन्त्र चार वेदों और 24 शब्दांशों से मिलकर बना हुआ है। यह मंत्र सीधे तौर पर आपके मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य पर असर डालती है। यह जरुरी नहीं है कि आप गायत्री मंत्र ला जाप ही करें, इसे सुननें मात्र से भी कई रोगों का खुद-ब-खुद इलाज हो जाता है। इस मंत्र का जाप सुबह या शाम के समय सूर्यास्त से पहले करना चाहिए।

गायत्री मंत्र:

ॐ भूर्भुव: स्व: तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो न: प्रचोदयात्।

गायत्री मंत्र के जाप से होते हैं ये फायदे:

*- नियमित गायत्री मंत्र का जाप करनें से व्यक्ति के तेज और सकारात्मकता में वृद्धि होती है। परमार्थ में रूचि बढनें के साथ-साथ किसी चीज का पूर्वाभास भी होने लगता है। व्यक्ति जो भी सपने देखता है वह पुरे होने लगते हैं। व्यक्ति का अपने गुस्से पर काबू होने लगता है साथ ही ज्ञान में भी वृद्धि होती है।

*- कोई शुभ मुहूर्त देखकर कांसे के पात्र में जल भरकर रखें। पात्र के सामने लाल आसन बिछाएं और उसपर बैठकर ऐं ह्रीं क्लीं का संपुट के साथ गायत्री मंत्र जा भी जाप करें। मंत्र का जाप ख़त्म हो जानें के बाद पत्र में रखे जल का सेवन करनें से बड़े से बड़े रोगों से भी मुक्ति मिल जाती है। अगर कोई व्यक्ति किसी बड़ी बिमारी से पीड़ित है और उसे यह जल पीनें के लिए दिया जाए तो उसे भी रोग में फायदा होता है।

*- वैसे तो गायत्री मंत्र सभी के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन इस मंत्र का सबसे ज्यादा फायदा विद्यार्थियों को होता है। हर रोज अगर विद्यार्थी इस मंत्र का 108 बार सच्चे मन से जाप करे तो उसे पढाई के दौरान किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है।

*- अगर दम्पत्ति संतान प्राप्ति की समस्या से जूझ रहे हों तो सुबह स्नान अदि कार्यों से निवृत्त होनें के बाद सफ़ेद वस्त्र धारण करें और यौं बीज मंत्र का सम्पुट लगाकर गायत्री मंत्र जाप करें। ऐसा प्रतिदिन करनें से जल्द ही संतान सुख की प्राप्ति होती है।

*- किसी को किसी भी कार्य में सफलता नहीं मिल रही है, कार्य में तरक्की नहीं हो रही है या धन की समस्या से जूझ रहा हो तो उसके लिए गायत्री मंत्र का पाठ बहुत ही फायदेमंद होता है। इसके साथ ही रविवार के दिन व्रत किया जाए तो ज्यादा लाभ प्राप्त होता है।

जानिये क्यों मृतक को जलाने से पहले उसके सिर पर मारते हैं डंडा, वजह जान कर हो जाएंगे दंग :o

दीपक जलाने के इन फायदों से यक़ीनन आप होंगे अनजान, जानकर रोज जलाएंगे दीपक :o

Loading...