in

इस गुफा में आज भी है गणेश जी का कटा हुआ सिर, भगवान शिव स्वयं करते है रक्षा

know where is lord ganesha

हिन्‍दू धर्म में श्री गणेश को प्रथम पूज्‍य देव का दर्जा दिया गया है. कोई भी कार्य मे गणेश जी की पूजा के बिना शुरु नहीं होता है. गजानन का आशय होता हैं, हाथी के सिर जैसा या हाथी के समांतर दिखने वाला.

श्रीगणेश का सिर कटने के बाद उन्‍हें हाथी का मस्‍तक लगाया गया था, लेकिन क्‍या आपने कभी सोचा है की सिर कटने के बाद श्री गणेश का असली मस्तक कहां गया था?

आपकी जानकारी के लिए बता दे की श्री गणेश का असली सिर आज भी एक गुफा में मौजूद है. जहां उनकी पूजा की जाती है.

कहां है भगवान गणेश का मस्‍तक?

भगवान गणेश के देश-विदेश में जितने भी मंदिर हैं उनमें उनकी हर मूर्ति में हाथी का सिर लगा हुआ है. हाथी का सिर ही श्री गणेश की असली पहचान है.

know where is lord ganesha

मान्‍यता है कि भगवान शिव ने गणेश जी का जो मस्‍तक काटा था, उसे उन्‍होंने एक गुफा में रख दिया था. इस गुफा को पाताल भुवनेश्‍वर के नाम से जाना जाता है. इस गुफा में श्री गणेश की मूर्ति को आदि गणेश के नाम से जाना जाता है. कहा जाता है, की कलयुग में इस गुफा की खोज आदिशंकराचार्य ने की थी.

कहां है यह गुफा?

यह गुफा उत्तराखंड में पिथौरागढ़ के गंगोलीहाट से करीब 14 कि.मी की दूरी पर स्थित है, जिसे पाताल भुवनेश्वर गुफा कहते हैं.

Zodiac sign story

सालो बाद खुल रहा है इन 4 राशियों के भाग्य का दरवाजा, मन में न रखे संकोच

TV actresses look like without makeup

छोटे पर्दे की ये अभिनेत्रियां बिना मेकअप के दिखती है ऐसी

Loading...