in ,

रेलवे ने बदले अपने नियम, अब 10वीं पास भी कर सकेंगे आवेदन

ITI Compulsory Finish On Railways

रेलवे समय समय पर निम्न तरह की पदों के लिए कई तरफ की वेकेंसियां निकालती रहती है. लेकिन अधिकतर पदों पर आवेदन करने के लिए दसवीं के साथ आईटीआई अनिवार्य था. लेकिन इस बार रेलवे विभाग ने अपने इस फैसले में बदलाव करते हुए आईटीआई की अनिवार्यता को पूर्ण रूप से समाप्त कर हर किसी को खुश कर दिया है.

इस अनिवार्यता के साथ विभाग ने अपनी परीक्षा फ़ीस में जो बढ़ोतरी की थी, उस नियम को भी उन्होंने बदल दिया है. जिन अभ्यर्थियों ने रेलवे परीक्षा की बढ़ी फीस को जमा किया है उन्हें वह धन राशि वापस की जाएगी.

ITI Compulsory Finish On Railways

रेलमंत्री पीयूष गोयल के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार रेलवे विभाग के ग्रुप लेबल-1 एवं लेबल-2 के लिए तक़रीबन 90 हजार पदों के लिए आवेदन निकाले थे. जिसमे सहायक लोको पायलट, क्रेन ड्राइवर, टेक्नीशियन,कार पेंटर, फिटर, ट्रैक मेंटेनर, गेट मैन, प्वाइंटस मैन, पोर्टर के साथ हेल्परों की भर्ती के आवेदन जारी है.

ITI Compulsory Finish On Railways

इन पदों के लिए दसवीं की परीक्षा उर्त्तीण होने के साथ आईटीआई की परीक्षा उर्त्तीण होना भी अनिवार्य था. लेकिन अब रेलवे विभाग ने आईटीआई की अनिवार्यता को समाप्त कर दिया है.

इन पदों पर आवेदन करने के लिए सामान्य वर्ग पांच सौ रुपए, आरक्षित वर्ग के लिए 250 रुपए फीस जमा करने का प्रावधान था. बड़ी फ़ीस को लेकर रेलवे ने अपना तर्क दिया था की उच्च स्तर पर ऑनलाइन परीक्षा के लिए अधिक खर्चे होते है. इसलिए फ़ीस में इजाफा किया गया था. इसे पहले सामान्य वर्ग के व्यक्तियों के लिए सौ रुपए परीक्षा और आरक्षित वर्ग के लिए महज 40 रुपए फीस तय की गई थी.

flight-offers-jet-airways-go-air

होली स्पेशल में हवाई यात्रा हुई सस्ती, ये एयरलाइंस दे रही मात्र 990 रुपए में टिकिट

Herschelle Gibbs Story

शराब पीकर खेली इस बल्लेबाज़ ने 175 रन की आतिशी पारी, विवादित रहा ये साउथ अफ्रीकी क्रिकेटर

Loading...