in ,

दीपक जलाने के इन फायदों से यक़ीनन आप होंगे अनजान, जानकर रोज जलाएंगे दीपक :o

भारत एक विविधता वाला देश है।

यहाँ कई धर्मों के लोग साथ मिलकर बड़े प्रेम से रहते हैं। यहाँ एक साथ दिवाली और ईद मनाई जाती है। साथ में क्रिशमस भी मनाया जाता है। अगर कुछ लोगों को छोड़ दिया जाए तो सभी बड़े सौहर्द के साथ मिलकर काम करते हैं। भारत में कई धर्म के माननें वाले लोग हैं। सभी धर्मों की अपनी एक अलग संस्कृति और परम्परा है।

इसाई धर्म में दीपक की जगह किया जाता है मोमबत्ती का उपयोग:

हिन्दू धर्म में जहाँ देवी देवताओं की

पूजा की जाती है, वहीँ मुस्लिम धर्म में मूर्ति पूजा नहीं की जाती है। वहाँ एक ईश्वर की उपासना की जाती है। ठीक वैसे ही इसाई धर्म में भी एक ही ईश्वर की पूजा की जाती है। हिन्दू धर्म में पूजा के समय दीपक, धूप, अगरबत्ती का बड़ा महत्व होता है। लेकिन मुस्लिम धर्म में दीपक नहीं जलाया जाता है। वहीँ इसाई धर्म में आस्था रखने वाले लोग दीपक की जगह मोमबत्ती का इस्तेमाल करते हैं।

हिन्दुओं का प्रमुख त्यौहार दिवाली

कुछ ही दिनों में आनें वाला है। इस पर्व में दीपकों से रौशनी की जाती है। हालांकि पिछले कुछ सालों में यह परम्परा पूरी तरह से बदलती जा रही है। अब लोग समय बचानें के लिए दीपकों की जगह मोमबत्ती और झालरों का इस्तेमाल करनें लगे हैं। इससे कई नुकसान भी हुए हैं। एक तो दिया बनाने वालों के कारोबार पर बुरा असर पड़ा है, दूसरा कीड़ों की संख्या भी बढ़ गयी है।

दीपक जलाने से बनी रहती है घर में सुख-समृद्धि:

हिन्दू धर्म में सभी लोग सुबह शाम अपने घरों में या देवी-देवता के स्थान पर दीपक जलाते हैं। ऐसा माना जाता है कि दीपक जलानें से घर में किसी भी चीज की कमी नहीं होती है। बुजुर्गों की मानें तो उनके अनुसार दीपक जलानें से घर में सुख समृद्धि बनी रहती है। यह भी कहा जाता है कि उस घर से सदस्य अन्धकार से उजाले की तरफ बढनें लगते हैं। आस-पास मौजूद शुभ शक्तियों को दीपक चुम्बक की भांति अपनी तरफ आकर्षित कर लेता है। पहले के समय में केवल मिट्टी से बनें हुए दीपक का प्रयोग किया जाता था, लेकिन अब बाजार में कई तरह के धातुओं से बनें दीपक भी आ गए हैं।

दीपक जलाते समय रखें दिशाओं का ख़ास ध्यान:

दीपक के बारे में यह कहा जाता है

किसे जलानें से ना केवल धर्मिक लाभ मिलता है बल्कि इसके कई वैज्ञानिक फायदे भी सामने आये हैं। घर में जब शुद्ध देशी घी या सरसों के तेल का दीपक जलाया जाता है तो उसके धुएं से घर में सात्विकता आती है। घर में मौजूद कीटाणुओं का भी खत्म हो जाता है। तेल के दीपक का प्रभाव उसके बुझने के आधे घंटे बाद तक बना रहता है। घी का दीपक बुझनें के चार घंटे बाद तक अपना प्रभाव बनाए रखता है। दीपक जलाते समय दिशाओं का ख़ास ध्यान रखें, अगर दीपक की लौ पूर्व दिशा की तरफ है तो इससे व्यक्ति को दीर्घायु की प्राप्ति होती है। जबकि उत्तर दिशा में होनें से धन-दौलत की प्राप्ति होती है।

दीपक जलाते समय अच्छे फल पानें के लिए करें इस मंत्र का जाप:
दीपज्योति: परब्रह्म:
दीपज्योति: जनार्दन:
दीपोहरतिमे पापं संध्यादीपं नमोस्तुते…
शुभं करोतु कल्याणमारोग्यं सुखं सम्पदां
शत्रुवृद्धि विनाशं च दीपज्योति: नमोस्तुति…

 

इस छोटे से मंत्र के जाप से करें जीवन की बड़ी-बड़ी परेशानियों और बिमारियों का अंत :o

अचानक दिखनें लगी महादेव की मणि, यह अद्भुत घटना देख हुए लोग भावविभोर… देखें वीडियो :o

Loading...